” नारी शक्ती का अवतार है “

Treasure and Love Your Self. .. !!!
March 8, 2018
Workshops : Current Trends and Mysteries Ahead (Part 1)
July 17, 2018
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

ये तो सब जानते है लेकिन क्या स्वयम नारी इस सच को जानती है कि उसमे एक ऐसी शक्ती है जो पूरी दुनिय को बदल सक्ती है ।
यदी पूरी देश की नारीआन एक जुट हो जाये और वे अपनी तथा समस्त नारी जाती कि महत्वता तथा समाज मे उसकी भुमिका को समज ले तो नारी कि शक्ती कयी गुना बद जय्गी और इन्हे अप्ने अस्तित्व तथा सम्मान कि रक्षा के लिये ज्यदा सङ्हर्श कि आव्शयक्ता नही होगी ।

एक नारी मा बनके एक ऐसी दुनिय की नीव रख सक्ती है जहान से सत्युग की शुरुवत हो सकती है ।
एक मा के द्वरा उसके बचो को दिये अछे सन्स्कार पूरी दुनिय को सुखी बना सकते है ।
अछे सन्स्कार समाज मे फैली बुरायीओ को खुद ही समाप्त कर सकते है ।
चाहे वो भ्रश्टाचार्, अशिक्षा, दहेज्, स्त्रीयो पे अत्त्यचार हो ।

ज्यदातर देखा गया है कि एक नारी के दुख का कारण पुरुश कम और स्त्रीया ज्यदा होती है ।
जैसे एक सास बहु का दुख नही समझती और सब्से बडा अश्चर्य तब होता है, जब एक मा बेटे और बेटी मेइन फरक करती है ।
वो स्वयम जीवन भर दुख और कष्ट झेलती है और अपनी बेटी को भी दुख झेलने कि अदत डाल्ती है और वही अपने पुत्र को स्त्रीयो पर शासन करने की सीख देती है ।

 

एक मा अनजाने मे येही सीखती है कि पुत्री सेहने के लिये और पुत्र स्त्री जाती पे राज करने के लिये बने है । । ।
खाने पीने से लेकर दैनिक जीवन कि हर जरूरत मे हमेश नारियो को की त्याग करने कि सलाह दी जाती है ।
कयी घरो मेइन ऐसा बी है कि एक बहु को कित्नी भी भूक क्यो न हो, फिर भी पूरे परिवर को खिलाये बिना वो खुद खाना नही खा सकती ।
एक तरफ उसी घर मे बेटी आराम करती है और बहु को इत्ना काम दिया जाता है ।
और इन दोनो मे भेद भाव करने वाली भी एक नारी ही होती है ।
ये सब्से बदा आश्चर्य और सब्से बदी विडम्बना है ।

ये भेद भाव तभी कम होग, जब नारी खुद के साथ साथ और नारीयो कि भावनयो का भी सम्मान करेगी ।
कितनी ही स्त्रीयान तो ऐसी भी है जो खुशी खुशी हर अत्यचार सेह्ना अपना धर्म समझती हैइ और अपनी बेटी को भी येही शिक्षा देती है ।
इसलिये मै सभी नारीयो से येही केहना चह्ती हु की अपाने उपर हो रहे अत्याचरो क लिये दुसरो को दोश देन बन्द करेन क्युन कि अपने दुखोन का कारन अप खुद ही है ।
तो ये सब छोद क एक नये युग कि शुरुवात आप अपने घर से ही कर सकती है और करनी चाहिये ।

 

यकीन मानिये आप बद्लेगी युग बद्लेगा क्युन की हर पुरुश और महिला कि जननी आप ही है ।
और आपकी दिखायी सही राह ही आपको एक स्वर्निम इतिहास लिखने के लिये मदद करेगी ।
नारी ही शक्ती है ।
नारी ही भक्ती है ।

Contributed By : 

Mrs. Deepika Sinha
A Loving Mother

A Caring Wife

A Responsible Daughter – in – Law

5,830 total views, 4 views today

12 Comments

  1. Sudhesh Suresh says:

    Very nice article.

    • admin says:

      Thank you for your feedback. and thanks a lot for taking out time and letting us know.
      kindly share this link and subscribe to our blog.
      Regards
      Team Powerphysio

  2. Sandhya LIC says:

    Great mam, too madam

  3. Ranjana says:

    Very thoughtful articulation….

    True and unbiased thought…

    Well written..m

    • admin says:

      Thank you for your feedback. and thanks a lot for taking out time and letting us know.
      kindly share this link and subscribe to our blog.
      Regards
      Team Powerphysio

  4. Nilam says:

    Very nice article

  5. Smita Banerjee says:

    Wonderful Deepa!
    Keep on writing………
    This is the best way to empower women’s.
    You have wonderful talents writing and singing 💐💐🙏

  6. Edwardwen says:

    Hello! I’ll tеll yоu my mеthod with аll thе details, as I startеd еarning in thе Intеrnet frоm $ 3,500 рer dау with thе help оf sociаl nеtworks reddit and twittеr. In this vidеo уou will find more detаilеd informаtion аnd аlso sеe hоw manу milliоns havе earned thоsе who havе beеn wоrking fоr a уear using mу mеthod. I spеcifiсallу madе а videо in this cарacity. Аfter buying mу mеthоd, уou will undеrstаnd whу: http://www.eushopper.info/track.php?type=az&dest=https://vk.cc/8jfmUx

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *